03/05/2019

DRDO Kya Hai? DRDO कैसे ज्वाइन करें

भारत की सुरक्षा के लिए कई प्रकार की सुरक्षा एजेंसी काम करती हैं यदि आप जानकारी रखते होंगे तो आपको पता होगा कि DRDO का नाम भी रक्षा विभाग से जुड़े हुए अंग के रूप में आता है. हो सकता है आपको DRDO का  फुल फॉर्म भी नहीं पता हो. आज के इस लेख में आपको डीआरडीओ से संबंधित महत्वपूर्ण जानकारी प्राप्त होने जा रही है.

DRDO एक भारतीय संगठन है जो भारत की रक्षा से जुड़े सभी कार्यों को Manage करता है यह भारतीय रक्षा मंत्रालय की रक्षा अनुसंधान और विकास विभाग के अंतर्गत कार्य करता है जिसमें यह भारत की रक्षा प्रणाली के Design और विकास के लिए लगातार कार्यरत है।

तो चलिए अब जानते हैं कि DRDO का फुल फॉर्म क्या होता है? डीआरडीओ का पूरा नाम डिफेंस रिसर्च एंड डेवलपमेंट ऑर्गेनाइजेशन है. अर्थात "रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन"

DRDO full form: Defence Research and Development Organization
अर्थ=  "रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन"
Official Website : DRDO

Defence Research and Development Organisation (DRDO) के बारे में

Information about DRDO

डीआरडीओ  यानी रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन. यह एक ऐसा संगठन है जहां सुरक्षा नीतियों पर शोध किए जाते हैं. उनके अनुसार सुरक्षा व्यवस्था कैसी हो इसके निर्णय भी लिया जाते हैं. भारत में इसका मुख्यालय दिल्ली में है.

DRDO की स्थापना कब हुई?

DRDO की स्थापना सन 1958 में भारतीय थल सेना एवं रक्षा विज्ञान संस्थान के तकनीकी विभाग के रूप में की गई थी इसका उद्देश्य सुरक्षा को मजबूत करना था और आज भी इसका उद्देश्य यही है. 

वर्तमान में DRDO लगभग 5000 साइंटिस्ट 25000 टेक्निकल वर्कर और कुछ अन्य कर्मचारियों को मिला करके कुल 35000 मनुष्य कार्य करते हैं. साइंटिस्ट मैंने तरीकों पर शोध करते हैं ताकि सुरक्षा को अत्यधिक मजबूत किया जा सके.

DRDO मुख्यतः कौन से कार्य करती है?

जानकारी के अनुसार DRDO का उद्देश्य देश की सुरक्षा के लिए रक्षा उपकरणों का आविष्कार करना है.  इसके साथ ही DRDO युद्ध वाहन, हथियार, विमान, इलेक्ट्रॉनिक उपकरण, इंजीनियरिंग सिस्टम, मिसाइल सिस्टम और एडवांस  कंप्यूटिंग आदि में विशेषता से कार्य करने की योग्यता रखता है.

वर्तमान में DRDO के अध्यक्ष कौन है?

वर्तमान में डीआरडीओ की कमान जी सतीश रेड्डी संभाल रहे हैं. इस पद पर कोई भी योग्य व्यक्ति आ सकता है यहां पर टेक्निकल और साइंटिस्ट पदों के लिए भर्तियां होती.

DRDO  की जॉब कैसे पाए?

जैसा कि हमने बताया इसमें कोई भी योग्य व्यक्ति शामिल हो सकता है. अलग-अलग पदों के लिए अलग-अलग योग्यताएं हैं. यदि आप साइंटिस्ट के पद पर खाना चाहते हैं टेक्निकल पद पर आना चाहते हैं तो निम्नलिखित योग्यताएं आपके पास होनी चाहिए.
  • GATE
  • CEPTAM
  • इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी में भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से 60 प्रतिशत अंकों के साथ मास्टर की डिग्री
इन योग्यताओं के साथ कोई भी व्यक्ति DRDO के लिए आवेदन कर सकता है.