17/03/2019

[गर्भवती महिलाओं को 6000 रुपए] प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में आवेदन कीजिए

भारत सरकार के द्वारा सन 2019 में लागू की गई प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना के अनुसार अब से प्रत्येक गर्भवती महिला को सरकार की तरफ से अतिरिक्त 6000 रुपए की मदद की जाएगी. इस लेख में हम आपको PM Matru Vandana Yojna के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे और आवेदन की प्रक्रिया को भी समझा देंगे इसलिए पूरी पोस्ट ध्यान से पढ़ें.

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना में Online आवेदन

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना क्या है?

भारत के तत्कालीन मोदी सरकार ने विश्लेषण किया और पाया की जन्म लेने वाले बच्चे के परिवार की आर्थिक स्थिति ठीक ना होने की वजह से जन्म के समय बच्चे का ठीक से ख्याल नहीं रखा जा पाता है और इसी वजह से अधिकतर बच्चों की मौत हो जाती है.

इस समस्या का समाधान परिवार को आर्थिक मदद देना है ताकि जन्म के लगभग महीने या 15 दिन तक आने वाले अतिरिक्त खर्चे के द्वारा गर्भवती महिलाओं के परिवार पर पड़ने वाला कुछ बोझ हल्का किया जा सके. इसीलिए केंद्र सरकार के द्वारा लागू की गई इस योजना के तहत आर्थिक मदद की जाएगी.

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ और शर्तें

प्रत्येक सरकारी योजना कुछ विशेष मानकों को तैयार की जाती है ताकि जरूरतमंद व्यक्ति ही उनका लाभ उठा पाए. इसी प्रकार केंद्र सरकार की इस योजना में भी कुछ मानक तय किए गए हैं.

इस योजना के तहत आर्थिक मदद किस्तों में भी जाएगी. लाभार्थी जितने मानक पूरा करता जाएगा उसे किस्तों में आर्थिक मदद मिलती जाएगी.

पहली किस्त में सरकार आपको ₹1000 देगी और इसके लिए गर्भवती या बच्चे को जन्म दे चुकी स्तनपान कराने वाली महिला अपने क्षेत्र के आंगनवाड़ी केंद्र में पंजीकरण कर आती है तो सरकार की यह पहली किस्त यानी ₹1000 आपको मिल जाएंगे.

दूसरी किस्त: इसमें सरकार की तरफ से आपको ₹2000 मिलेंगे गर्भधारण के 6 महीने बाद आंगनवाड़ी केंद्र यात्रा आशा बहू के पास जानकारी देनी पड़ेगी इसके बाद सरकार आपको ₹2000 आपके खाते में दे देगी.

तीसरी किस्त: इसमें भी सरकार की तरफ से आपको ₹2000 प्राप्त होंगे. यह धनराशि बच्चे के जन्म के बाद मिलती है जब आप आंगनवाड़ी केंद्र इत्यादि में बच्चे के नाम का पंजीकरण कराते हैं. और बच्चे को पहला टीका टीका लगाया जाता है.

क्या आपने इसे देखा:

PMMVY योजना का लाभ उठाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

इसमें आपको कोई अतिरिक्त दस्तावेज की आवश्यकता नहीं परंतु सरकार के द्वारा दी जाने वाली आर्थिक मदद को प्राप्त करने के लिए बैंक अकाउंट और आधार कार्ड तथा वोटर आईडी कार्ड का होना आवश्यक है इसके साथ ही राशन कार्ड की भी आवश्यकता पड़ सकती है. योजना के लाभ की तीसरी किस्त प्राप्त करने के लिए बच्चे की डिलीवरी के समय हॉस्पिटल से जारी दस्तावेज की आवश्यकता पड़ेगी. बाकी जानकारी आपके क्षेत्र की आशा बहू या फिर आंगनवाड़ी केंद्र में प्राप्त हो जाएगी.

  • राशन कार्ड
  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक पासबुक
  • जच्चा बच्चा कार्ड

PMMVY आवेदन कैसे करें

मातृत्व वंदना योजना में आवेदन की प्रक्रिया ऑफलाइन है, इसके लिए आपको अपने क्षेत्र के आंगनवाड़ी केंद्र में संपर्क करना होगा इसके साथ ही यह सुविधा सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में भी उपलब्ध है. लेकिन सही मायने में यदि आप के आस पास कोई आंगनवाड़ी केंद्र है यह भाषा बहुत से मिल सकते हैं तो उनसे संपर्क कीजिए.

फार्म का प्रिंट निकलवा ले और उसमें अपनी जानकारी भरने के बाद आंगनवाड़ी केंद्र या स्वास्थ्य केंद्र या फिर आशा बहू के पास जमा कर दीजिए. आपका आवेदन स्वीकार किया जाएगा. तो आपको बताए गए प्रोसेस के अनुसार योजना का लाभ मिलने लगेगा.

अतिरिक्त जानकारी के लिए सरकार द्वारा जारी नोटिफिकेशन जरूर पढ़ें.

उम्मीद करते हैं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी. प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना का लाभ उठाएं और प्राप्त धनराशि का पूर्ण इस्तेमाल बच्चे और उसकी माता की देखरेख के लिए करें.