06/03/2019

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में आवेदन कैसे करें और सामूहिक विवाह कैसे करें - Samuhik Vivah Yojna

मित्रों जैसा कि आप जानते हैं अपने प्रदेश शहर और देश में कई ऐसे घराने हैं जिनके लिए अपने बच्चों की शादी करना कभी मुश्किल काम होता है या फिर वह उसकी व्यवस्था करने में सक्षम नहीं होते. ऐसे परिवारों के लिए सरकार के द्वारा सामूहिक विवाह व्यवस्था बनाई गई है. इस व्यवस्था में किसी भी वर्ग जाति के परिवार के लड़का और लड़की का विवाह सरकारी खर्चे पर कराया जाता है इसमें एक साथ कई जोड़ों का विवाह होता है इसलिए इसे सामूहिक विवाह कहते हैं.
Samuhik Vivah Yojna

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना

उत्तर प्रदेश राज्य में सरकार के द्वारा नए जोड़ों के लिए सामूहिक विवाह योजना नाम से एक योजना चलाई गई है इस योजना के अंतर्गत नवविवाहित जोड़ों को ₹35000 तक की आर्थिक मदद सरकार के द्वारा प्रदान की जाएगी सरकार के द्वारा इन विवाहित जोड़ों को उपहार भी दिया जाएगा उपहार स्वरूप नया मोबाइल फोन और कुछ अन्य घरेलू सामान भी उपलब्ध कराया जाएगा.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के द्वारा तैयार किए गए समाज कल्याण विभाग के ढांचे के अनुसार प्रदेश सरकार द्वारा लागू की गई इस योजना का उद्देश्य गरीब परिवारों की मदद करना है जो शादी का खर्च उठा नहीं पाते हैं दीवारों को इस योजना का लाभ मिलेगा तो उन पर आर्थिक बोझ कम होगा रुपए की राशि को काफी मदद प्रदान करेगी। 

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के नियम शर्ते और योग्यता

इस योजना का लाभ उठाने के लिए आपको कुछ योग्यताओं को पूरा करना होगा जैसा कि हम जानते हैं यह
आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के लिए बनाई गई योजना है इसलिए आपको इस बात का ख्याल रखना चाहिए. 
  • यदि आप आर्थिक रूप से कमजोर हैं तो इस योजना के लिए आवेदन करें
  • यह योजना उत्तर प्रदेश के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा लागू की गई है इसलिए इस योजना का लाभ उत्तर प्रदेश के नागरिकों को दिया जाएगा
  • इस योजना के अंतर्गत ने जोड़ों और विद्वान तथा तलाकशुदा विवाह में भी लाभ प्रदान किया जाएगा

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लाभ

मुख्यमंत्री के द्वारा चालू की गई इस योजना लाभ और विशेषताएं आपको जानना जरूर चाहिए, इस योजना की मुख्य बात है कि आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को मदद करना ही इस योजना का उद्देश्य है. जैसा कि आप जानते हैं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ समस्त आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों को मदद प्रदान करते हैं उनकी जाति और धर्म देखे बिना.  उसी प्रकार से यह योजना भी लागू की गई है. इसमें आपकी जाति या धर्म मायने नहीं रखता आपकी पारिवारिक स्थिति मायने रखती है.
  • सरकार के द्वारा प्रत्येक जोड़ो को ₹35000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी और अच्छी बात यह है कि प्रत्येक सामूहिक विवाह के अंतर्गत एक साथ कम से कम 10 जोड़ों का विवाह किया जाएगा. यानी आपकी बारी बड़े आराम से आ जाएगी.
  • योगी आदित्यनाथ की प्रदेश सरकार इस योजना के अंतर्गत प्रत्येक गरीब परिवार के विवाहित जोड़े को शादी की पोशाक के साथ बिछिया और अंगूठी भी प्रदान करेगी.
  • इस योजना के लिए ऑफलाइन रजिस्ट्रेशन होगा और इस विवाह का आयोजन प्रदेश के प्रत्येक जिले के जिला मजिस्ट्रेट द्वारा किया जाएगा.

मित्रों यदि आप की आर्थिक स्थिति कमजोर है तो अपने क्षेत्र के सामूहिक विवाह कार्यालय का पता करके अपनी जानकारी उन्हें दे और सामूहिक विवाह में सम्मिलित होकर के विवाह करें और सरकार की मदद प्राप्त करें.