18/06/2019

बर्रा कैसे बन गयी हजरत मुहम्मद की बीबी जुवैरियाह, शादीशुदा होने के बावजूद

मुस्लिम के पैगम्बर हजरत मुहम्मद की अनेको पत्नियाँ थी अपने जीवन के अंतिम दिनों तक मुहम्मद ने शादियाँ रचाई थी. जिनसे से कुछ मुख्य लड़कियां और औरतें अधिक चर्चा में रही.

आज के लेख में हम Juwairiyah जुवैरियाह के बारे में आपको जानकारी देंगे. जुवैरियाह का असली नाम बर्रा बिन जरार था. आईये जानिए क्या है इसके पीछे की कहानी. कैसे बर्रा पहले जुवारियाह बनी और फिर शादीशुदा होने के बावजूद कैसे बन गयी हजरत मुहम्मद की बीबी जुवैरियाह बन गयी.

अल हारिस बिन ज़रार

शुरुवाती दिनों में मुहम्मद का इस्लाम एक दल जैसा था और उसके मेम्बर को मुस्लिम कहा जाता था. मुहम्मद दूसरों की दौलत और जमीन हथियाने के लिए हमले किया करते थे. मुहम्मद ने दुसरे कबीले के सरदार हारिस पर हमला किया तब हारिस और उसके लोगो को इस हमले की जरा भी आशंका नहीं थी. युद्ध में हारिस हार गया मुस्लिमो ने उसके 600 लोगो को बंदी बना लिया. लूट में संपत्ति के तौर पर 2,000 ऊंट और 5,000 बकरियां मुहम्मद को मिली थीं।

शरीर से मजबूत आदमियों को गुलाम बना लिया और बाकियों को मार डाला. अब बचे हुए बंदियों में महिलाएं और बच्चियां थी. बर्रा भी इनमे बंदी थी. बर्रा मुहम्मद के विरोधी मुरिसा के सरदार अल हारिस बिन ज़रार की बेटी थी. अब मुहम्मद के इशारे पर सभी सौनिक बारी बारी से औरतों को नग्न करके उनकी नुमाईश कर रहे थे.

हजरत मुहम्मद की बीबी जुवैरियाह

मुहम्मद में मुस्लिमो को हुक्म दिया की अपने अपने पसंद की औरत और बच्चियों को ले जाओ और जो मर्जी वो करो. इस आदेश के बाद उनके लोगो औरतो और बच्चियों से शारीरिक सम्बन्ध बनाते और फिर उनके गले काट दे रहे थे.

हारिस की बेटी बर्रा (जुवैरियाह)

ये सब देख कर हारिस की बेटी बर्रा डर गयी वो मुहम्मद के पास दौड़ी और आगे गिर के बोली, 'मुस्लिमो के अल्लाह के पैगम्बर, मैं अल हारिस बिन ज़रार की बेटी बर्रा हूँ, मुझे बक्श दो.' कृपया थोड़ी इंसानियत दिखाईये और हमे (औरतों और बच्चियों को) बक्श दीजिये.

मुहम्मद ने बर्रा को उपर से नीचे तक ध्यान से देखा फिर सैनिको को इशारे देकर बर्रा के बंदी पति को पास लाने को कहा और फिर उसे मार दिया.

बर्रा के पति को मारने के बाद नबी मुहम्मद साहब ने बर्रा से कहा-
अगर तुम मुझसे निकाह करो और एलान करो की तुम ये अपनी मर्जी से कर रही हो. तो मैं तुम्हारी जान बक्श दूंगा और तुम्हारे लोगो की औरतों और बच्चियों को भी जिंदा रहने दूंगा मगर वो ज़िन्दगी भर मेरे सैनिको की सेवा में रहेंगी. 
हारिस की बेटी इतना सब कुछ देखकर बहुत डर चुकी थी इसलिए उसने मुहम्मद के आगे झुकना ही सही समझा और अपने पति की हत्या करने वाले नबी हजरत मुहम्मद के साथ शादी करने को राज़ी हो गयी.

इसके बाद मुहम्मद ने उसे जुवैरियाह से कहा की तुम्हारे इस फैसले से अल्लाह बहुत खुश है और आज से तुम्हारा नाम बर्रा नहीं जुवैरियाह है.

इसके बाद मुहम्मद ने जुवैरियाह को नग्न करके शारीरिक सम्बन्ध बनाये और इस तरह जुवैरियाह भी इस्लाम के नबी हजरत मुहम्मद सल्लाह हुसल्ल्म की दासी बीबी बन गयी.