03/07/2019

Keyboard पर F और J के नीचे निशान क्यों होता है

आपने कंप्यूटर का इस्तेमाल जरूर किया है और कीबोर्ड टाइपिंग भी जरूर की होगी ऐसे में यदि आप कीबोर्ड को ध्यान से देखेंगे तो उसमें आपको F और J बटन पर एक निशान (-) दिखाई देगा. यह निशान माइनस के जैसा होता है. क्या आपको f और j बटन पर बने इस निशान का मतलब पता है? अगर नहीं पता तो आज का आर्टिकल आपको इस बारे में पूरी जानकारी देगा, इसलिए इसे अंत तक पढ़ें.

keyboard me F aur J button ke neeche nishan kyun hota hai

कंप्यूटर के कीबोर्ड में F और J बटन के नीचे बना हुआ यह निशान लगभग प्रत्येक कंप्यूटर और लैपटॉप कीबोर्ड में बना होता है. यह किसी प्रकार की गलती से यूं ही नहीं बना होता बल्कि इसका इस्तेमाल किया जाता है इसलिए इन चिन्हों को बनाया गया होता है. चलिए जानते हैं कि आखिर इन निशान का मतलब क्या होता है और कीबोर्ड की F और J बटन पर ही क्यों बने होते हैं.

F और J बटन

अक्सर आपने देखा होगा कि तेजी से टाइपिंग करना सिखाने के लिए कंप्यूटर टीचर विद्यार्थियों की दोनों हाथ की अंगूठे के पास वाली उंगलियों को F और J पर रखकर टाइपिंग करने के लिए कहते हैं. ऐसा इसलिए होता है क्योंकि कंप्यूटर कीबोर्ड के अल्फाबेट की बीच वाली लाइन में आने वाली यह दोनों keys दोनों तरफ से समान दूरी पर पड़ती हैं. इन पर उंगली रखकर टाइपिंग की शुरुआत करने से आप आसानी से बाकी सभी बर्तनों तक अपनी उंगलियों की पहुंच बना पाते हैं दुनिया भर के सबसे तेज टाइपिंग करने वाले लोग इस ट्रिक का इस्तेमाल करते हैं.

F और J बटन पर निशान का क्या फायदा होता है ?

मुख्य सवाल आता है कि इन बटन के निचले हिस्से पर यह छोटा सा निशान क्यों होता है. असल में यह निशान किस लिए बनाया जाता है ताकि बिना देखे लोग जान सके कि यह कौन सी बटन है. पूरे कीबोर्ड में यह निशान मात्र F और j बटन पर ही पाया जाता है. ऐसे में इन बटन पर उंगली रखकर निशानों को महसूस करके, बिना देखे तेजी से टाइपिंग करने वाले लोगों को अपने हाथों की स्थिति पहचानने में आसानी रहती है.

टाइपिंग करने वालों को आसानी से समझ में आ जाता है कि उनका सीधा हाथ का उंगली J पर है और बाएं हाथ की उंगली J बटन पर है. इसे टाइपिंग की स्पीड इतनी बढ़ जाती है कि टाइपिंग करने वाला व्यक्ति केवल स्क्रीन को देखता है और उसकी उंगलियां अंदाजा लगाकर टाइपिंग करती रहती है.

कंप्यूटर में कई सारे टाइपिंग की प्रेक्टिस कराने वाले सॉफ्टवेयर के बारे में भी जाना होगा. टाइपिंग की शुरुआती ट्रिक बताने से पहले वह उंगलियों को सही से रखना सिखाते हैं. और उंगलियों की पोजीशन बिना देखे पहचानने के लिए F और J बटन पर बने हुए यह निशान मदद करते हैं.

निष्कर्ष

उम्मीद करते हैं आपको यह जानकारी पसंद आई होगी यह काफी रोचक जानकारी है, अभी अभी आप भी टाइपिंग करते होंगे तो यकीन मानिए अगली बार जब कीबोर्ड पर हाथ रख कर बैठेंगे तो अपनी उंगलियों की स्थिति जानने के लिए आपको बार-बार कीबोर्ड को देखना नहीं होगा. इस जानकारी को अपने मित्रों के साथ जरूर शेयर करें. धन्यवाद.

इस लेख पर आप अपने विचार अथवा सवाल को कमेन्ट बॉक्स के माध्यम से लिख सकते हैं. Check "Notify me".